19 जिलों की 89 सीटों पर डाले गए वोट, 788 उम्मीदवारों की किस्मत EVM में कैद

गुजरात विधानसभा चुनाव के पहले चरण में 89 विधानसभा सीटों पर गुरुवार को मतदान हुआ. चुनाव आयोग के मुताबिक, शाम पांच बजे तक औसतन 59.24 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया.  मतदान सुबह आठ बजे शुरू हुआ था और शाम पांच बजे समाप्त हुआ.  पहले चरण में 788 उम्मीदवारों की चुनावी किस्मत ईवीएम में कैद हो गई है. इस चरण में सौराष्ट्र-कच्छ और दक्षिणी क्षेत्रों के 19 जिलों की 89 सीट के लिए मतदान हुआ.

कुछ छिटपुट घटनाओं और इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) में गड़बड़ी की कुछ शिकायतों को छोड़कर सुबह आठ बजे शुरू हुई मतदान प्रक्रिया कमोबेश शांतिपूर्ण रही. निर्वाचन आयोग ने कहा कि मतदान का अंतिम आंकड़ा आना अभी बाकी है क्योंकि कुछ मतदान केंद्रों के आंकड़े प्राप्त नहीं हुए है और इसमें डाक मतपत्र भी शामिल नहीं थे. तापी जिले में सबसे अधिक 72.32 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया.

आदिवासी-प्रभुत्व वाले जिले में व्यारा और निजार दो विधानसभा क्षेत्र शामिल हैं. लगभग 68.09 प्रतिशत मतदान के साथ, नर्मदा जिला दूसरे स्थान पर रहा. सौराष्ट्र क्षेत्र में भावनगर में शाम पांच बजे तक सबसे कम 51.34 प्रतिशत मतदान दर्ज किया गया.

नर्मदा के अलावा, चार अन्य जिलों में 60 प्रतिशत से अधिक मतदान दर्ज किया गया जिनमें नवसारी (65.91 प्रतिशत), डांग (64.84 प्रतिशत), वलसाड (62.46 प्रतिशत) और गिर सोमनाथ (60.46 प्रतिशत) शामिल हैं. निर्वाचन आयोग ने कहा कि कुछ प्रतिद्वंद्वी समूहों के बीच झड़प की कुछ घटनाओं को छोड़कर मतदान काफी हद तक शांतिपूर्ण रहा. जामनगर जिले के जामजोधपुर में महिला मतदाताओं ने मतदान केंद्र पर उनके लिए कोई अलग बूथ नहीं होने पर विरोध दर्ज कराया.

जूनागढ़ में, पुलिस ने कांग्रेस के एक पदाधिकारी को उस समय रोकने की कोशिश की, जब वह अपने कंधे पर रसोई गैस सिलेंडर लेकर मतदान केंद्र की ओर जा रहे थे. निर्वाचन आयोग ने 104 वर्षीय मतदाता रामजीभाई की तस्वीर ट्वीट की और कहा कि उन्होंने डाक मतपत्र का विकल्प चुनने के बजाय मतदान केंद्र पर आकर मतदान करके लोकतंत्र के उत्सव में भाग लिया.

100 साल की बुजुर्ग महिला ने भी डाला वोट- निर्वाचन आयोग ने सुबह 100 वर्षीय मतदाता कामुबेन पटेल की एक तस्वीर ट्वीट की जिसमें वह वलसाड जिले के उंबरगांव विधानसभा क्षेत्र के एक मतदान केंद्र में वोट डालने के बाद अपनी उंगली पर लगी अमिट स्याही दिखा रही हैं. राज्य विधानसभा की कुल 182 सीटों में से 89 सीटों पर चुनाव के पहले चरण के तहत मतदान हुआ.

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) ने कहा कि मतदान के शुरुआती तीन घंटों में विभिन्न केंद्रों पर गड़बड़ी के कारण 33 बैलट यूनिट, 29 कंट्रोल यूनिट और 69 वोटर वेरिफिएबल पेपर ऑडिट ट्रेल (वीवीपीएटी) को बदला गया. राज्य में मतदान होने के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पंचमहल के कलोल और छोटा उदयपुर में रैलियों को संबोधित किया, जहां विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के तहत पांच दिसंबर को मतदान होगा.

राज्य के सीईओ कार्यालय ने कहा, मतदान के शुरुआती तीन घंटे में लगभग 0.1 प्रतिशत बैलट यूनिट, 0.1 प्रतिशत कंट्रोल यूनिट तथा 0.3 प्रतिशत वीवीपीएटी को बदला गया. सभी जिलों में रिजर्व मशीन सेट उपलब्ध हैं. जहां कहीं भी कोई छोटी या बड़ी समस्या होती है तो उसे जल्द से जल्द दूर करने की व्यवस्था की गयी है.

सुबह-सुबह मतदान करने वालो में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता और गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री विजय रूपाणी, भाजपा की प्रदेश इकाई के प्रमुख सी आर पाटिल, राज्यसभा सदस्य परिमल नाथवानी, जामनगर (उत्तर) से भाजपा उम्मीदवार रीवाबा जडेजा, कांग्रेस के विपक्ष के पूर्व नेता परेश धनानी और आम आदमी पार्टी (आप) की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष गोपाल इटालिया शामिल थे. रीवाबा जडेजा ने राजकोट में एक मतदान केंद्र पर वोट डाला जबकि उनके पति और क्रिकेटर रवींद्र जडेजा ने जामनगर में वोट डाला.

Share post -

Live COVID-19 statistics for
India
Confirmed
44,684,248
Recovered
0
Deaths
530,741
Last updated: 2 seconds ago

यह वेबसाइट कुकीज़ या इसी तरह की तकनीकों का इस्तेमाल करती है, ताकि आपके ब्राउजिंग अनुभव को बेहतर बनाया जा सके और व्यक्तिगतर तौर पर इसकी सिफारिश करती है. हमारी वेबसाइट के लगातार इस्तेमाल के लिए आप हमारी प्राइवेसी पॉलिसी से सहमत हों.